World Autism Awareness Day 2022 – विश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस

World Autism Awareness Day 2022 – विश्व ऑटिज्म जागरूकता दिवस

वर्ल्ड ऑटिज्म जागरूकता दिवस हर साल 2 अप्रैल को मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य ऑटिज्म से पीड़ित बच्‍चों के जीवन में बेहतरीन और सुधार के लिए जरूरी कदम उठाये जाते हैं। ऑटिज्‍म एक ऐसी बीमारी है जिसमें बच्चे का दिमाग ठीक तरह से डेवलप नहीं हो पाता है। जीवन गुजारने के लिए उन्‍हें हर वक्त सहायता की जरूरत होती है। यह एक प्रकार से मानसिक बीमारी है।  

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने की थी घोषणा

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने साल 2 अप्रैल 2007 को विश्व ऑटिज़्म जागरूकता दिवस की घोषणा की थी। इस बीमारी में बच्चा अपनी ही धुन में रहता है। यह दिमाग के विकास के दौरान होने वाले विकार है। डॉक्टर के मुताबिक बच्चों में ऑटिज्म के लक्षण तीन साल की उम्र में ही नजर आने लगते हैं। इस बीमारी में दिमाग का विकास सामान्य बच्चों से बिल्कुल अलग होता है। वे एक ही काम को बार-बार दोहराते हैं। कोई डरा सहमा होता है तो कोई किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं देते हैं।  

आटिज्म क्या है?

•    ऑटिज्म मस्तिष्क विकास में उत्पन्न बाधा संबंधी विकार है.

•    ऑटिज्म से ग्रसित व्यक्ति दूसरों से अलग स्वयं में खोया रहता है.

•    व्यक्ति के विकास संबंधी समस्याओं में ऑटिज्म तीसरे स्थान पर है. अर्थात् व्यक्ति के विकास में बाधा पहुंचाने वाले मुख्य कारणों में ऑटिज्म भी जिम्मेदार है.

ऑटिज्म के रोगी को मिर्गी के दौरे भी पड़ सकते हैं.

•    ऑटिज्म पूरी दुनिया में फैला हुआ है. एक रिपोर्ट के अनुसार साल 2022 तक विश्व में तकरीबन 10 करोड़ लोग ऑटिज्म से प्रभावित थे.

प्रेग्‍नेंसी में रखें पूरा ध्यान

कहा जाता है कि प्रेग्‍नेंसी के दौरान खान-पान अच्‍छा रखें। ऐसा नहीं करने पर बच्चे का दिमाग पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाता है।  

हालांकि यह बीमारी सेंट्रल नर्वस सिस्टम को नुकसान होने के कारण ऑटिज्म नामक बीमारी होने की आशंका बढ़ जाती है।  

ऑटिज्म के लक्षण –

– अपनी धुन में मस्‍त रहना।  
– किसी एक कार्य को बार-बार दोहराना।
– बच्‍चे किसी की आवाज सुनने के बाद भी रिएक्ट नहीं करते हैं।
– चीजों को सीखने में दिक्कत होती है।
– ये बच्‍चे दिखने में भी अलग होते हैं।  

ऑटिज्म का क्या कारण है (Causes of Autism)?

एएसडी का सटीक कारण अज्ञात है। सबसे वर्तमान शोध दर्शाता है कि कोई एक कारण नहीं है। कुछ जोखिम कारकों में शामिल हैं:

पारिवारिक हिस्टरी
बड़े माता-पिता से पैदा होना
जन्म के समय कम वजन
लेट प्रेगनेंसी प्लान करने के कारण
चयापचय असंतुलन
वायरल संक्रमण का एक मातृ इतिहास
प्रीमेच्योर डिलीवरी के कारण

क्या है ऑटिज्म का इलाज (Treatment of Autism)?

सबसे प्रभावी उपचारों में प्रारंभिक थेरेपी शामिल है। इन कार्यक्रमों में बच्चे का नामांकन जितनी जल्दी होगा, उनका दृष्टिकोण उतना ही बेहतर होगा। याद रखें, ऑटिज्म जटिल है। एक ऑटिस्टिक व्यक्ति – चाहे वह बच्चा हो या वयस्क – उनके लिए उपयुक्त सहायता कार्यक्रम खोजने में समय लगता है। इसके अलावा संतुलित खानपान और एक्सरसाइज़ भी मदद कर सकते हैं।

साल 2022 की थीम

इस वर्ष के विश्व ऑटिज़्म जागरूकता दिवस की थीम है “सभी के लिए समावेशी गुणवत्ता शिक्षा” (Inclusive Quality Education for All), समावेशी और निष्पक्ष शिक्षा प्रदान करने और लोगों के जीवन में सुधार और असमानताओं को कम करने की नींव के रूप में सभी के लिए आजीवन सीखने के अवसरों को बढ़ावा देने पर केंद्रित है।

क्‍या आप जानते हैं ये फिल्‍म ऑटिज्‍म जैसे विषय पर आधारित है –

– कोई मिल गया।
– मैं ऐसा ही हूं।
– माय नाम इज खान।
– बर्फी।
– ब्‍लैक।
– तारे जमीं पर।