गर्लफ्रेंड बनाने के चक्कर में बहन बनाने तथा राखी बंधवाने तक का नौबत आ गई! आशिक को मिली छेड़खानी की बड़ी सजा

गर्लफ्रेंड बनाने के चक्कर में बहन बनाने तथा राखी बंधवाने तक का नौबत आ गई! आशिक को मिली छेड़खानी की बड़ी सजा

NAUGACHIYA: यदि आप जिसे गर्लफ्रेंड बनाना चाहते हों और वो आपकी बहन बन जाए तो आप पर क्या बीतेगी. यह आप तो अंदाजा लगाकर समझ सकते है. दरअसल ये तो आपको कहा गया था की आप सोचिए लेकिन यह एक सच्ची घटना है. चलिए जानते है विस्तार से –

क्या है पुरा मामला

हुआ यूं कि एक आशिक की दिल्लगी पड़ गया महंगा. गर्लफ्रेंड बनाने के चक्कर में बहन बनाने की नौबत तक आ गई. यह एक सच्ची घटना है.

मामला नवगछिया पुलिस जिला के परवत्ता थाना क्षेत्र के राघोपुर गांव से जुड़ा है. जहां की एक महिला से साल भर से छेड़खानी कर रहे युवक को ग्रामीणों ने पकड़ कर उसकी कलाई पर महिला से राखी बंधवायी. इसके बाद लड़के ने सार्वजनिक रूप से माफी मांगी और ताउम्र महिला को बहन के रूप में देखने की बात कही. पंचायत के सरपंच प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि बार-बार महिला छेड़खानी की शिकायत कर रही थी. जब उसे ग्रामीणों ने छेड़खानी करते पकड़ा तो निर्णय लिया गया कि अगर युवक महिला को बहन मान ले और आगे से ऐसी हरकत नहीं करने का वादा करे तो इसे माफी दी जा सकती है.

आशिक को बंधवानी पड़ी राखी

पंचायत के सामने महिला ने आशिक बने युवक को राखी बांधी. पंचायत ने इस दौरान युवक को चेतावनी दी है कि यदि उसने पंचायत के निर्णय की अवहेलना की तो उसे पुलिस के हवाले कर दिया जायेगा.

आशिक ने बहन माना और आशीर्वाद दिया. मैं तुमको ताउम्र के बहन मानता हु और प्रत्येक साल रखी बंधवाऊंगा.

यदि सभी छेड़खानी करने वाले बहन मानने लग जाए तो

यदि सभी छेड़खानी करने वाले बहन मानने लग जाए तो एक बहुत बड़ा दरिद्रता खत्म हो जाएगी. घर वाले कभी ये सोचकर परेशान नही होंगे की अभी तक घर के लड़की घर नही आई.