तालिबान लड़ाकों ने काटा गर्दन: महिला वॉलीबॉल खिलाड़ी का किया सर कलम

तालिबान लड़ाकों ने काटा गर्दन: महिला वॉलीबॉल खिलाड़ी का किया सर कलम

तालिबान अपने क्रूर हरकतो से बाज नहीं आ रहा है। ऐसा लग रहा है कि अफगानिस्तान में खेलों को लेकर भी संकट छा गया है। दरअसल तालिबानी लड़ाकों के द्वारा एक जूनियर राष्ट्रीय वॉलीबॉल महिला खिलाड़ी का सर कलम कर दिया गया। और घटना भी सामने नहीं आ पा रहा था जिससे अभी भी महिलाओं में दर बरकरार है। चलिए जानते है पूरी घटना विस्तार से –

काबूल

टीम के कोच के द्वारा यह सामने आया है कि सर कलम तो अक्टूबर की शुरुआत में ही कर दिया गया था। डर के कहर के वजह से खुलासा नहीं हो रहा था। हत्या करके इस विषय पर कोई चर्चा नहीं करने को कहा गया था तालिबानी लड़ाकों की ओर से।

मजहबी हाकीमी एक जूनियर राष्ट्रीय वॉलीबॉल खिलाड़ी है। जो मजहबी अशरफ गनी की सरकार गिरने से पहले काबुल म्युनिसिपालिटी वॉलीबॉल क्लब की ओर से खेलती थी। मजहबी हाकिमी क्लब के मशहूर खिलाड़ी भी थी।

जब से तालिबान की सरकार आई तब से महिलाओं पर कड़े प्रतिबंध तथा अनेक प्रकार की नियम कानून लगाई जा रही है। जिससे खेल जगत पर पूरी तरह से असर दिख रहा है अब बहुत ही कम महिला खिलाड़ी बची हुई है ज्यादातर देश छोड़कर जा चुकी है।

एक ओर तो तालिबानी सरकार दुनिया को गुमराह कर रही है कि महिलाओं को किसी भी प्रकार का प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा। जैसे पहले चल रहा था सब ऐसे ही चलेगा थोड़ा सा बदलाव होगा। लेकिन तालिबानी सरकार महिलाओं के अधिकार खत्म कर देना चाहती है।

साक्षात्कार के समय कोच ने कहा

कोच सुरैया अफजाली पर्शियन इंडिपेंडेंट को इस घटना के बारे में एक साक्षात्कार के समय बताया। सुरैया का कहना था कि मजहबी हाकिमी बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक थी। लगभग महिला खिलाड़ी दूसरे देशों में शिफ्ट हो चुकी है , दुर्भाग्यवश हाकिमी रह गई थी और वह खेलना चाहती थी अपने देश के लिए ! लेकिन तालिबानी लड़ाकों के द्वारा बहुत बेरहमी से सर कलम कर दिया गया।